Chalak Bakri Hindi Kahani

Chalak Bakri Hindi Kahani

चालाक बकरी हिंदी कहानी / चालाक माँ

Chalak Bakri Hindi Kahani – एक गांव में मीरु नाम की एक बकरी रहती थी उसके तीन बच्चे थे वो अपने बच्चो को लेकर बहुत परेशांन रहती थी क्यूंकि गांव के किनारे ही एक घाना जंगल था बकरी को डर था की पता नहीं बच्चे कब खेलते हुए उस जंगल में चले जाए और जंगली जानवर का शिकार हो जाए। इसीलिए वह अपने बच्चो को हमेशा ये बताती रहती थी की बच्चो कभी भी उस जंगल की तरफ मत जाना। पर एक दिन बकरी का बच्चा एक किसान से चारा लाने के बारे में सुनता है की जंगल में तो चारा हरा भरा चारो तरफ एअसे ही पड़ा रहता है ,बकरी का बच्चा यह सुनकर बहुत खुश होता है और उसके मन में हरा चारा देखने की इच्छा होती है और वह चुप चाप जंगल की ओर चला जाता है जब उस बकरी बच्चे की माँ को यह पता चलता है तो वह बहुत चिंतित हो जाती है और तुरंत अपने बच्चे को ढूंढने निकलती है। वहा बकरी का बच्चा जंगल में कुछ ही दूरी पर पहुँचता है तभी उसे चारो तरफ से कीच हइना आकर घरे लेते है यह देख कर बकरी का बच्चा डर जाता है और जोर -जोर से चिल्लाने लगता है

उसे देख सभी हाइने कहते है क्या ताजा – ताजा माल है कास ये परसो मिला होता क्यूंकि परसो मेरा बर्थडे था पार्टी और रंगीन होती कोई बात नहीं आज मना लेते है पार्टी ,सभी हाइने उस बच्चे को मरने के लिए उसकी ओर बढ़ते है तभी बच्चे की माँ वहा पर आ जाती है और कहती है बस जायदा हंसो मत नहीं तो तुम सब को शेर राजा आ कर खा लेंगे ,कहने लगी तुम लोग क्या समझते हो की मैं इसे ऐसे ही अकेले छोड़ केर गयी थी मुझे शेर राजा ने हुक्म दिया है की जब तक मैं न आ जाऊ तब तक मैं यहाँ से न हिलू ,अगर तुम लोगो ने इसे खाया तो शेर राजा तुम लोगो को जिन्दा नहीं छोड़ेंगे। हाइने बोले शेर राज को पता कैसे चलेगा की हमने तुम्हे खाया है बकरी बोली तुम क्या शेर राज को बेवकूफ समझते हो, वो देखो हाथी राजा को हम पर नजर रखने के लिए छोड़ गए है यहाँ पर ,देखा अब तू चाहो तो हमें खा सकते हो।

Chalak Bakri Hindi Kahani

यह बात सुनकर सभी हाइने चिंतित हो जाते है और आपस में बात करते है – हां यार हाथी राजा तो हमारे बारे में बता कर ही छोड़ेंगे ,तो क्या करे अरे जान बची तो लाखो पाय ,शेर के मुँह से निवाला छीनने का मतलब है खुद उसका निवाला बनना है। यह कह कर चारो हाइना वह से भाग जाते है। बकरी अपने बच्चे को लेकर जल्दी – जल्दी अपने गांव की तरफ जा रही होती है अभी वह कुछ ही दुरी पर पहुँचती है तभी वह देखती है की उसके शामने शेर खड़ा है ,शेर बकरी को देख कर बकरी की तरफ तेजी से बढ़ता है यह देख बकरी का बच्चा घबरा जाता है और अपनी माँ के शरीर से लिपट जाता है शेर उनके पास आ जाता है डारी हुई माँ बोलती है ठहरिये शेर राज नहीं तो शेरनी को गुस्सा आ जायेगा ,शेर कहता कहा है शेरनी क्या तू अपने आप को शेरनी कह रही है ,बकरी -नहीं मैं आप की शेरनी की बात कर रही हु आप क्या समझते हो की मैं अपने बच्चे को लेकर इस जंगल में घुमने निकली हु मुझे शेरनी ने पकड़ लिया था

और कहा था की जब तक मैं न आ जाऊ तब तक यही रुकना आज मैं अपने शेर के लिए ताजा – ताजा तुम्हारा बच्चा और तुम्हे ले जाउंगी ,शेर – मैंने कैसे मान लू ,बकरी – मत मानो ,बाद में मुझे मत कहना की मुझे बताया नहीं था अगर आप को झूठ लगे तो उस कौए से पूछ लो उसे शेरनी मरी निगरानी के लिए रख कर गयी है मेरे साथ कोई कुछ भी करेगा तो कौआ उसे बता देगा फिर शेरनी उसे छोड़ेगी नहीं आप चाहे तो उस कौए को भगा कर देख लो वह मेरी निगरानी छोड़ कर जायेगा नहीं आपकी शेरनी का हुकुम है ,बकरी की बात सुनकर शेर कौए को भागने के लिए जोर से दहाड़ता है लेकिन कौआ नहीं भागता है यह देख कर बकरी कहती है कोई फायदा नहीं है शेर राज क्या ऐसा हो सकता है की आपकी शेरनी की बात ना मानकर कौआ चला जाये।

शेर को यकीं हो जाता है और वह वह से चला जाता है यह सोच कर की बाद में शेरनी तो मेरे लिए ही लाएगी तू दोनों को। बकरी अपने बच्चे को लेकर आगे बढ़ती है ta  देखती है की उसके आगे शेरनी खड़ी है  ,शेरनी उन्हे देख कर बहुत खुश होती है ,बकरी कहती है पति – पत्नी हो तो आप जैसे दोनों एक दूसरे को खुश करने में लगे हो रोज आप शेर के लिए शिकार कर के ले जाती हो आज शेर ने हम दोनों का शिकार करने का प्लान बनाया है वो तुम्हे पार्टी देना चाहता है ,शेरनी खुश हो जाती है और बकरी से पूंछती है की क्या सच में शेर राज मेरे बारे में ऐसा सोचते है ,बकरी कहती है हा सच में। आप गुफा में जाओ तो सही वे आकर मुझे ले जायेंगे यह सुनकर शेरनी गुफा में चली जाती है ,और बकरी अपने बच्चे को लेकर गांव की तरफ दौड़ पड़ती है और वह सभी को मात देखकर अपने बच्चे को घर वापस ले आती है और वह पर उसके और बच्चे देख कर बहुत खुश होते है ,तभी बकरी अपने बच्चो को यह बताती है की मुसीबत आने पर घबराना नहीं चाहिए बल्कि धैर्य से दीमाक का इस्तेमाल करना चाहिए ,जिससे हमें उस मुसीबत से लड़ने का रास्ता साफ हो जायेगा और हम कामयाब होंगे।.

Chalak Bakri Hindi Kahani Video –

Chalak Bakri Hindi Kahani